Blog

थोड़ा वक्त लगता है……

Motivational Poem By Sourabh kushwaha हसीं ख्वाबो को जीने में थोड़ा वक्त लगता है, जमीं को असमा होने में थोड़ा वक्त लगता है, नही होता मुकम्मल इश्क़ बस दो चार वारो में, चांद को पूर्णिमा होने में थोड़ा वक्त लगता…